जिले के बारे में

दंतेवाड़ा भारत की सबसे पुरानी बसाहटों में से एक है। जिन्होंने अपना जीवन जीने का तरीका नहीं बदला, अपने लोक नृत्य नहीं छोड़े, अपने मधुर लोक गीतों को अपने दिलों में बसाये रखा, जिनके बाशिंदों की मोहक मुस्कान हमारा दिल जीत लेती है। यह बसाहट दंतेवाड़ा है। इस शहर का नाम इस क्षेत्र की आराध्य देवी माँ दंतेश्वरी के नाम से पड़ा।

और पढ़ें …

जिला एक नज़र में

  • क्षेत्र: 3,410.50 वर्ग किमी.
  • जनसंख्या : 2,83,479
  • भाषा: हिन्दी, छत्तीसगढ़ी, गोंडी, हल्बी
  • Villages: 234
कलेक्टरडीएम
श्री टोपेश्वर वर्मा, आई ए एस